Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Classic Header

{fbt_classic_header}

Latest Poems

latest

संविधान तेरी जय हो , SAMVIDHAN TERI JAI HO | MAHENDRA CAMA

  संविधान तेरी जय हो लोकतंत्र तेरी जय हो                संविधान तेरी जय हो                लोकतंत्र तेरी जय हो तुझसे ही है शान देश की तु...

 

संविधान तेरी जय हो
लोकतंत्र तेरी जय हो

               संविधान तेरी जय हो
               लोकतंत्र तेरी जय हो
तुझसे ही है शान देश की
तुझसे ही स्वाभिमान है
तेरी वजह से यश है जिंदा
नर नारी एक समान हैं
बोली भाषा अलग हमारी
दिल मे वतन की लय हो

                संविधान तेरी जय हो
                लोकतंत्र तेरी जय हो
संविधान तेरी जय हो
लोकतंत्र तेरी जय हो
संविंधान मूल्य ही मानवीय मूल्य है
समता स्वतंत्रता न्याय बंधुता
में ही देश की जय है
               संविधान तेरी जय हो
               लोकतंत्र तेरी जय हो

सबको समता का हक बाँटा
दी शिक्षा सबको समान है
अवसर सारे सबको हैँ मिले
आजदी ससबके लिये है
                
                संविधान तेरी जय हो
                 लोकतंत्र तेरी जय हो

~ संविधान तेरी जय हो | महेंद्र सिंह कामा









No comments