Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Classic Header

{fbt_classic_header}

Latest Poems

latest
Showing posts with label Social. Show all posts
Showing posts with label Social. Show all posts

BS- 4 DOOR TO DOOR

  BS4 ,DOOR TO DOOR चलो शहर से गांव की ओर BS4, DOOR TO DOOR चला शहर से गांव की ओर BS4,BS4,BS4 मिशन twenty four -2 BS4,BS4 BS4 हमे गां...

संविधान दिवस , SAMVIDHAN DIVAS | MULNIVASI NEWS

दिनांक 26 नवम्बर 2023 संविधान दिवस के अवसर पर देहरादून उत्तराखंड में पथसंचलन और गनसभा का आयोजन किया गया है ये आयोजन बामसेफ और ऑफशूट विंग्स ...

INDEPENDENCE DAY 15 AUGUST 2023

  देहरादून, आज दिनाक 15 अगस्त 2023 को स्वतंत्रता दिवस को बाबा साहेब की मूर्ति पर माल्यार्पण कर देहरादून उत्तराखण्ड के नागरिकों व सामाजिक संग...

स्वतंत्रता दिवस 2023 | INDEPENDENCE DAY

संमस्त भारत वासियों को स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक मंगलकामनायें और हार्दिक बधाईयाँ  स्वतंत्रता अपने आपके लिए जैसे आप चाहते है कि खुद को  समत...

मणिपुर आइये MANIPUR AAIYE | MULNIVASI POEM

  Sc st obc मणिपुर आइए सारे माइनॉरिटी मणिपुर में आइए Sc st obc मणिपुर आइए देश की आबरू आके खुद बचाइए सिद्ध नाग बनो हर युवा देश का भीख ना...

कर दी है घोषणा KAR DI HAI GHOSHANA | MULNIVASI POEMS

कर दी है घोषणा भीम ने ये देश मे अब वंचित आ रहे राजा भेष में कर दी है घोषणा भीम ने ये देश मे अब बहुजन होंगे शासक भारत देश में पाखंड को ...

संविधान ने बनाया SAMVIDHAN NE BANAYA | MULNIVASI POEM

  संविधान ने बनाया भारत को खूबसूरत  इसके बिना अधूरे ये सब की है जरूरत  भाग 1 में राज्य उसके राज्यक्षेत्र  देश का नाम क्या,कितना राज्यक्षेत्...

नारे NARE , स्लोगन SLOGN | MULNIVASI POEM

                   नारे / Slogan 1 आर्टिकल 1 की क्या पहचान     इंडिया,भारत देश का नाम 2 समस्या को मिटाना है    संविधान पढ़ाना है 3 समस्य...

सत सत नमन करूँ, SAT SAT NAMAN KARUN | MULNIVASI POEM

सत सत नमन करूँ मैं कांशीराम को -2 जिसने जगाया सोये हुए इंसान को जिसको ना मिले अवसर सारे सत्ता से रखा जिनको न्यारे हक अवसर सभी दिलाये ऐस...

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस WOMENS DAY

आज 08 मार्च है, आज ऐसा दिवस है जो भारत मे प्राचीन काल से चल रही दो विचार धारा ,समता की विचार धारा और गैरबराबरी की विचार /असमानता की विचार धा...

सबको इज्जत SABAKO EJJAT | MULNIVASI POEM

सबको इज्जत सबको रोटी सबको शिक्षा और रोजगार स्वास्थ्य रहें सारा भारत चिकित्सा है सबका अधिकार सबके दिल मे भारत बसता सबको वतन से प्यार सब...